Home Loan: घर खरीदने का सपना होगा पूरा, इन 5 बैंकों से पाएं सस्ते होम लोन

होम लोन एक प्रकार का ऋण है जिसका उपयोग घर खरीदने के लिए किया जाता है। होम लोन की राशि आमतौर पर घर की कीमत के 80% से अधिक नहीं होती है।

Photo of author

Reported by अतुल कुमार

Published on

Home Loan: घर खरीदने का सपना होगा पूरा, इन 5 बैंकों से पाएं सस्ते होम लोन

घर खरीदना एक बड़ा निवेश है, इसलिए यह महत्वपूर्ण है कि आप सही बैंक से सही लोन चुनें। यहां 5 बैंक दिए गए हैं जो वर्तमान में सस्ती दरों पर होम लोन प्रदान कर रहे हैं। आइए जानते हैं इस पूरी जानकारी को। लेख में आगे तक अवश्य बने रहें।

होम लोन क्या है?

होम लोन एक प्रकार का ऋण है जिसका उपयोग घर खरीदने के लिए किया जाता है। होम लोन की राशि आमतौर पर घर की कीमत के 80% से अधिक नहीं होती है। ऋणदाता आमतौर पर होम लोन की राशि पर ब्याज लेते हैं, जिसे मासिक भुगतान के रूप में भुगतान किया जाता है। होम लोन की अवधि आमतौर पर 20 से 30 साल होती है।

होम लोन लेने के लिए, आवेदकों को आमतौर पर एक अच्छे क्रेडिट स्कोर, स्थिर आय और स्थिर रोजगार की आवश्यकता होती है। ऋणदाता आवेदकों की आय और व्यय के साथ-साथ संपत्ति के मूल्य और स्थिति का भी आकलन करेंगे।

ये हैं पांच जहां मिल रहा है सस्ता लोन

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

भारत में कई बैंक विभिन्न प्रकार के ऋण प्रदान करते हैं, जिनमें व्यक्तिगत ऋण, होम लोन, कार लोन आदि शामिल हैं। इनमें से, कुछ बैंक अन्य की तुलना में कम ब्याज दरों पर ऋण प्रदान करते हैं।

यहां भारत में सस्ते ऋण प्रदान करने वाले पांच बैंक दिए गए हैं:

  1. भारतीय स्टेट बैंक (SBI) SBI भारत का सबसे बड़ा बैंक है और यह विभिन्न प्रकार के ऋणों में सस्ते दरों पर ऋण प्रदान करता है। SBI के व्यक्तिगत ऋण की ब्याज दर 10.50% से शुरू होती है, जबकि होम लोन की ब्याज दर 6.70% से शुरू होती है।
  2. एचडीएफसी बैंक (HDFC) HDFC भारत का सबसे बड़ा निजी क्षेत्र का बैंक है और यह विभिन्न प्रकार के ऋणों में सस्ते दरों पर ऋण प्रदान करता है। HDFC के व्यक्तिगत ऋण की ब्याज दर 10.50% से शुरू होती है, जबकि होम लोन की ब्याज दर 6.90% से शुरू होती है।
  3. ICICI बैंक (ICICI) ICICI भारत का दूसरा सबसे बड़ा निजी क्षेत्र का बैंक है और यह विभिन्न प्रकार के ऋणों में सस्ते दरों पर ऋण प्रदान करता है। ICICI के व्यक्तिगत ऋण की ब्याज दर 10.50% से शुरू होती है, जबकि होम लोन की ब्याज दर 7.00% से शुरू होती है।
  4. कोटक महिंद्रा बैंक (Kotak Mahindra) कोटक महिंद्रा भारत का सबसे बड़ा निजी क्षेत्र का बैंक है और यह विभिन्न प्रकार के ऋणों में सस्ते दरों पर ऋण प्रदान करता है। कोटक महिंद्रा के व्यक्तिगत ऋण की ब्याज दर 10.50% से शुरू होती है, जबकि होम लोन की ब्याज दर 7.10% से शुरू होती है।
  5. बैंक ऑफ बड़ौदा (Bank of Baroda) बैंक ऑफ बड़ौदा भारत का चौथा सबसे बड़ा बैंक है और यह विभिन्न प्रकार के ऋणों में सस्ते दरों पर ऋण प्रदान करता है। बैंक ऑफ बड़ौदा के व्यक्तिगत ऋण की ब्याज दर 10.50% से शुरू होती है, जबकि होम लोन की ब्याज दर 7.25% से शुरू होती है।

इस कारण होम लोन होते हैं प्रभावित 

एचडीएफसी बैंक की वेबसाइट के अनुसार, होम लोन प्रभावित होने वाले 7 प्रमुख कारण निम्नलिखित हैं:

  1. ब्याज दरें: होम लोन की ब्याज दरें भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) द्वारा निर्धारित रेपो दर और बैंकों की मार्जिन दरों पर निर्भर करती हैं। जब RBI रेपो दरें बढ़ाता है, तो बैंकों की ब्याज दरें भी बढ़ जाती हैं, जिससे होम लोन की लागत बढ़ जाती है। इसके विपरीत, जब RBI रेपो दरें कम करता है, तो बैंकों की ब्याज दरें भी कम हो जाती हैं, जिससे होम लोन की लागत कम हो जाती है।
  2. ऋणदाता की जोखिम प्रीमियम: ऋणदाता ऋणदाता की जोखिम प्रीमियम (आरपीपी) भी जोड़ता है, जो ऋणदाता को होने वाली जोखिम के लिए क्षतिपूर्ति करने के लिए एक शुल्क है। आरपीपी ऋणदाता की क्रेडिट रेटिंग, ऋण की अवधि, और ऋण की राशि जैसे कारकों पर आधारित होता है।
  3. प्रोसेसिंग शुल्क: ऋणदाता प्रोसेसिंग शुल्क भी ले सकते हैं, जो ऋण आवेदन और स्वीकृति प्रक्रिया की लागत को कवर करने के लिए एक शुल्क है। प्रोसेसिंग शुल्क ऋण की राशि और ऋणदाता के आधार पर भिन्न होता है।
  4. संदर्भ शुल्क: ऋणदाता संदर्भ शुल्क भी ले सकते हैं, जो ऋणदाता को क्रेडिट रिपोर्ट या अन्य जानकारी प्राप्त करने के लिए भुगतान करने की आवश्यकता होती है। संदर्भ शुल्क ऋण की राशि और ऋणदाता के आधार पर भिन्न होता है।
  5. अन्य शुल्क: ऋणदाता अन्य शुल्क भी ले सकते हैं, जैसे कि देर से भुगतान शुल्क, पूर्व भुगतान शुल्क, और पुनर्भुगतान शुल्क। इन शुल्कों के बारे में जानकारी के लिए ऋणदाता से संपर्क करना महत्वपूर्ण है।
  6. ऋणदाता की नीतियां: ऋणदाता की नीतियां भी होम लोन की लागत को प्रभावित कर सकती हैं। उदाहरण के लिए, कुछ ऋणदाता ऋण की राशि पर कोई सीमा नहीं रखते हैं, जबकि अन्य ऋण की राशि पर एक सीमा रख सकते हैं। कुछ ऋणदाता ऋण की अवधि पर कोई सीमा नहीं रखते हैं, जबकि अन्य ऋण की अवधि पर एक सीमा रख सकते हैं।
  7. ऋणदाता की प्रतिस्पर्धा: ऋणदाता एक-दूसरे के साथ प्रतिस्पर्धा करते हैं, इसलिए वे अक्सर एक-दूसरे को टक्कर देने के लिए ब्याज दरों और अन्य शर्तों को कम करते हैं। इसलिए, होम लोन लेने से पहले विभिन्न ऋणदाताओं से उद्धरण प्राप्त करना महत्वपूर्ण है।

होम लोन लेने के लिए आवश्यक दस्तावेज

होम लोन लेने के लिए आवश्यक दस्तावेज निम्नलिखित हैं:

  • आवेदन पत्र
  • पहचान प्रमाण
  • निवास प्रमाण
  • आय प्रमाण
  • संपत्ति का दस्तावेज
  • क्रेडिट रिपोर्ट

Leave a Comment