Kisan Yojana 16th Kist Confirm Date: 16वीं किस्त न मिलने वाले किसानों की लिस्ट जारी, तुरंत चेक करें अपना नाम

स योजना को 2019 में शुरू किया गया था, और तब इस योजना में कोई भी सख्त नियम कानून नहीं थे। सरकार को उम्मीद थी कि योजना में पारदर्शिता बरती जाएगी। लेकिन, योजना शुरू होने के कुछ समय बाद ही इसमें गड़बड़ी की खबरें सामने आने लगीं। कई ऐसे मामले सामने आए, जिनमें गैर-किसानों ने भी योजना का लाभ उठाया था। इसके अलावा, कुछ मामलों में यह भी पता चला कि लाभार्थियों को निर्धारित राशि नहीं मिल रही थी।

Photo of author

Reported by अतुल कुमार

Published on

Kisan Yojana 16th Kist Confirm Date: 16वीं किस्त न मिलने वाले किसानों की लिस्ट जारी, तुरंत चेक करें अपना नाम

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan Samman Nidhi Yojana) के तहत लाभार्थी किसानों को हर चार महीने में 2,000 रुपये की तीन किस्तों में 6,000 रुपये दिए जाते हैं। इस योजना का लाभ लेने के लिए किसानों को कुछ शर्तों को पूरा करना होता है। अगर कोई किसान इन शर्तों को पूरा नहीं करता है, तो उसे 16वीं किस्त नहीं मिलेगी। आइए जानते हैं किन लोगों को 16वीं किस्त प्रदान नहीं की जाएगी। लेख में अंत तक अवश्य बने रहें।

नया नियम क्या कहता है?

आपको बता दें इस योजना को 2019 में शुरू किया गया था, और तब इस योजना में कोई भी सख्त नियम कानून नहीं थे। सरकार को उम्मीद थी कि योजना में पारदर्शिता बरती जाएगी।

लेकिन, योजना शुरू होने के कुछ समय बाद ही इसमें गड़बड़ी की खबरें सामने आने लगीं। कई ऐसे मामले सामने आए, जिनमें गैर-किसानों ने भी योजना का लाभ उठाया था। इसके अलावा, कुछ मामलों में यह भी पता चला कि लाभार्थियों को निर्धारित राशि नहीं मिल रही थी।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

इन गड़बड़ियों के कारण सरकार को सख्त कदम उठाना पड़ा। सरकार ने योजना के नियमों में बदलाव किया और अब ई-केवाईसी करना अनिवार्य कर दिया गया है। इसके अलावा, लाभार्थियों के लिए बैंक खाता और आधार कार्ड की आवश्यकता होगी।

नए नियमों के अनुसार, 16वीं किस्त पाने के लिए किसानों को निम्नलिखित 3 चीजें करनी जरूरी हैं:

  1. केवाईसी करना जरूरी है।
  2. भू सत्यापन भी होना चाहिए।
  3. आधार कार्ड अकाउंट से लिंक होना चाहिए।

किसान सम्मान निधि योजना में मिलने वाला लाभ

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (PM-KISAN) के तहत लाभार्थी किसानों को हर साल 6,000 रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। इस योजना के तहत 16वीं किस्त का भुगतान जल्द ही किया जाएगा।

इस योजना के तहत, सरकार हर 4 महीने में 2,000 रुपये की किस्त किसानों के खातों में भेजती है। अभी तक 15 किस्तें जारी की जा चुकी हैं। 16वीं किस्त का भुगतान मार्च या अप्रैल 2024 में किया जा सकता है।

16वीं किस्त पाने के लिए किसानों को ई-केवाईसी कराना अनिवार्य है। अभी तक प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत 2 लाख 39 हजार 325 किसान रजिस्टर्ड हैं, जिनमें से 20 हजार 600 किसानों ने ही ई-केवाईसी कराया है, शेष 18 हजार 725 किसानों का ई केवाईसी अभी नहीं हुआ है।

सरकार का सख्त एक्शन, अब नहीं चलेगी मनमानी

सरकार ने हाल ही में एक आदेश जारी किया है, जिसमें कहा गया है कि जो किसान 31 जनवरी, 2024 तक अपना ई-केवाईसी नहीं कराएंगे, उन्हें 16वीं किस्त नहीं मिलेगी। इसके अलावा, सरकार की तरफ से सख्ती बरती जा सकती है और ऐसे किसानों के आवेदन को निरस्त भी किया जा सकता है।

इसलिए, जो किसान अभी तक ई-केवाईसी नहीं करा पाए हैं, उन्हें जल्द से जल्द इस प्रक्रिया को पूरा कर लेना चाहिए। ई-केवाईसी करने के लिए, किसान पीएम किसान एक्सप्रेस ऐप का उपयोग कर सकते हैं।

अब घर बैठे ही करवाएं ई केवाईसी और भू सत्यापन

इस योजना का लाभ लेने के लिए किसानों को कुछ शर्तों को पूरा करना होता है, जिनमें ई-केवाईसी और भू-सत्यापन भी शामिल हैं।

अब किसानों को इन दोनों प्रक्रियाओं के लिए घर से बाहर नहीं जाना पड़ेगा। वे घर बैठे ही इन प्रक्रियाओं को पूरा कर सकते हैं। इसके लिए सरकार ने “पीएम किसान एक्सप्रेस” ऐप लॉन्च किया है, जिसमें फेस ऑथेंटिकेशन की सुविधा उपलब्ध है।

कैसे करें ई-केवाईसी

पीएम किसान एक्सप्रेस ऐप के माध्यम से ई-केवाईसी करने के लिए, आपको निम्नलिखित चरणों का पालन करना होगा:

  1. पीएम किसान एक्सप्रेस ऐप खोलें।
  2. “ई-केवाईसी” टैब पर क्लिक करें।
  3. अपना आधार नंबर और कैप्चा कोड दर्ज करें।
  4. “ई-केवाईसी करें” बटन पर क्लिक करें।

आपको अपने आधार से जुड़े मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी प्राप्त होगा। ओटीपी दर्ज करें और “सत्यापित करें” बटन पर क्लिक करें।

कैसे करें भू-सत्यापन

पीएम किसान एक्सप्रेस ऐप के माध्यम से भू-सत्यापन करने के लिए, आपको निम्नलिखित चरणों का पालन करना होगा:

  1. पीएम किसान एक्सप्रेस ऐप खोलें।
  2. “भू-सत्यापन” टैब पर क्लिक करें।
  3. अपना आधार नंबर और कैप्चा कोड दर्ज करें।
  4. “सत्यापन करें” बटन पर क्लिक करें।

आपको अपने आधार से जुड़े मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी प्राप्त होगा। ओटीपी दर्ज करें और “सत्यापित करें” बटन पर क्लिक करें।

Leave a Comment