Code of conduct : क्या आचार संहिता लागू होने के बाद भी वोटर लिस्ट में नाम जुड़वा सकते हैं? यहां जानें स्टेप बाय स्टेप प्रोसेस

"पांच राज्यों में चुनाव: वोटिंग लिस्ट में नाम जोड़ने का सुनहरा मौका! अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन पर भेजे गए सैटेलाइट के बारे में आश्चर्यजनक तथ्यों के साथ एक नई रिपोर्ट में वोटर लिस्ट में नाम जोड़ने के लिए यह सुनहरा मौका हाथ से न जाने दें। चुनाव आयोग द्वारा जल्दी ही घोषित की जाने वाली विधानसभा चुनावों की तारीखों के बीच, आचार संहिता के अनुसार, अपना नाम जोड़ें। ऑनलाइन या ऑफलाइन, अपना नाम जोड़ें और आपकी भागीदारी में योगदान दें।"

Photo of author

Reported by अतुल कुमार

Published on

क्या आचार संहिता लागू होने के बाद भी वोटर लिस्ट में नाम जुड़वा सकते हैं? यहां जानें स्टेप बाय स्टेप प्रोसेस

Code of conduct : पांच राज्यों में चुनाव: वोटिंग लिस्ट में नाम जोड़ने का सुनहरा मौका! मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, तेलंगाना, राजस्थान और मिजोरम के नागरिकों के लिए खुशखबरी! इस साल होने वाले विधानसभा चुनावों की तारीखें जल्द ही घोषित होने वाली हैं। आचार संहिता लागू होने से पहले, वोटिंग लिस्ट में अपना नाम जोड़ने का यह सुनहरा मौका न चूकें!

आचार संहिता क्या है?

आचार संहिता चुनाव आयोग द्वारा निर्धारित नियमों का एक समूह है, जो चुनाव को स्वतंत्र, निष्पक्ष और पारदर्शी तरीके से कराने के लिए बनाया गया है। यह सभी राजनीतिक दलों, उम्मीदवारों और सरकार पर लागू होता है।

आचार संहिता लागू होने के बाद वोटर लिस्ट में जुड़ेगा नाम?

जैसा की आप सभी जानते हैं कि पांच राज्यों (मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, तेलंगाना, राजस्थान और मिजोरम) में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। चुनाव आयोग ने इन राज्यों के लिए वोटिंग लिस्ट जारी कर दी है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

यदि आपने अभी तक वोटिंग लिस्ट में अपना नाम नहीं जोड़ा है और आपकी उम्र 18 वर्ष से अधिक है, तो आप ऑनलाइन या ऑफलाइन जाकर लिस्ट में नाम जोड़ सकते हैं। आचार संहिता लागू होने के 10 दिन बाद तक आप वोटिंग लिस्ट में बदलाव कर सकते हैं। वर्तमान में, आचार संहिता लागू नहीं है, लेकिन जल्द ही लागू कर दिया जाएगा।

ऑनलाइन कैसे जोड़े वोटर लिस्ट में अपना नाम?

भारतीय चुनाव आयोग (ECI) ने ऑनलाइन वोटर रजिस्ट्रेशन की सुविधा शुरू की है, जिससे आप घर बैठे ही वोटर बन सकते हैं।

यहाँ ऑनलाइन वोटर रजिस्ट्रेशन के लिए स्टेप बाय स्टेप गाइड दी गई है:

1. ECI वेबसाइट पर जाएं:

  • www.eci.nic.in पर जाएं।
  • “ऑनलाइन वोटर रजिस्ट्रेशन” लिंक पर क्लिक करें।

2. रजिस्ट्रेशन करें:

  • “New Registration” बटन पर क्लिक करें।
  • अपनी जानकारी दर्ज करें, जैसे कि नामपताजन्म तिथिलिंगशैक्षिक योग्यताव्यवसायआधार नंबर, आदि।
  • एक यूजर आईडी और पासवर्ड बनाएं।

3. फोटो और दस्तावेज अपलोड करें:

  • यूजर के पासपोर्ट आकार के फोटो के लिए तय क्षेत्र में अपनी तस्वीर अपलोड करें।
  • अतिरिक्त दस्तावेज़ अपलोड करें, जैसे पता प्रमाण (आधार कार्ड, बिजली बिल, पानी का बिल, आदि)।

4. दस्तावेज़ सत्यापन:

  • यदि आप दस्तावेज़ ऑनलाइन जमा करने में असमर्थ हैं, तो आप “Booth Level Officer (BLO)” से संपर्क कर सकते हैं।
  • BLO आपके घर आएगा और आपके दस्तावेज़ों का सत्यापन करेगा।

5. आवेदन जमा करें:

  • सभी जानकारी और दस्तावेज़ अपलोड करने के बाद, “Submit” बटन पर क्लिक करें।
  • आपको एक रजिस्ट्रेशन नंबर मिलेगा।

6. आवेदन की स्थिति ट्रैक करें:

  • आप ECI वेबसाइट या Voter Helpline ऐप का उपयोग करके अपने आवेदन की स्थिति ट्रैक कर सकते हैं।

ऑफलाइन प्रक्रिया क्या है?

यहाँ ऑफलाइन वोटर रजिस्ट्रेशन के लिए स्टेप बाय स्टेप गाइड दी गई है:

1. पंजीकरण फॉर्म प्राप्त करें:

  • चुनाव आयोग की वेबसाइट (https://eci.gov.in/) से पंजीकरण फॉर्म (Form 6) डाउनलोड करें।
  • आप ईआरओ कार्यालय (Electoral Registration Officer) जाकर भी फॉर्म प्राप्त कर सकते हैं।

2. फॉर्म भरें:

  • आवश्यक जानकारी के साथ फॉर्म भरें, जैसे कि नामपताजन्म तिथिलिंगशैक्षिक योग्यताव्यवसायआधार नंबर, आदि।
  • मांगे गए दस्तावेजों की फोटोकॉपी फॉर्म के साथ अटैच करें, जैसे कि पता प्रमाण (आधार कार्ड, बिजली बिल, पानी का बिल, आदि)।

3. फॉर्म जमा करें:

  • भरे हुए फॉर्म को अपने निर्वाचन क्षेत्र के बूथ स्तर अधिकारी (BLO) या मतदाता केंद्र को भेजें।
  • आप फॉर्म को ईआरओ कार्यालय में भी जमा कर सकते हैं।

4. आवेदन की स्थिति ट्रैक करें:

  • आप ECI वेबसाइट या Voter Helpline ऐप का उपयोग करके अपने आवेदन की स्थिति ट्रैक कर सकते हैं।

Voter Helpline ऐप का उपयोग करके वोटिंग लिस्ट में अपना नाम चेक करें

  • प्ले स्टोर या ऐप स्टोर से Voter Helpline ऐप डाउनलोड करें।
  • ऐप को इंस्टॉल करें।
  • अपना मोबाइल नंबर दर्ज करें।
  • OTP प्राप्त करें और उसे दर्ज करें।
  • आप लॉगिन हो जाएंगे।
  • “मतदाता खोजें” विकल्प चुनें।
  • अपना ईपीआईसी नंबर (वोटर आईडी) या नामपिता का नामजन्म तिथिराज्यजिला, आदि दर्ज करें।
  • “खोजें” बटन पर क्लिक करें।
  • यदि आपका नाम वोटिंग लिस्ट में है, तो आपको अपनी जानकारी, जैसे कि नामपतावोटिंग केंद्र का नाम और पता, आदि दिखाई देगी।
  • यदि आपका नाम वोटिंग लिस्ट में नहीं है, तो आपको “आपका नाम मतदाता सूची में नहीं है” संदेश दिखाई देगा।

Leave a Comment